राइट्स - राजमारà¥�ग
English Version मेरा ईमेल
खोजें 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
आप यहां देखें :: मुख्‍य पृष्‍ठ : परिचालि‍त क्षेत्र : राजमार्ग
    

राजमार्ग

कारोबारी रूपरेखा

राइट्स एक्सप्रेसवे, राजमार्ग, फीडर / ग्रामीण सड़कों, पुलों / वैडक्‍ट और सुरंगें, सड़क नेटवर्क की रख-रखाव योजना/ प्रबंधन,  सड़क प्रणाली के सुधार / उन्नयन(अपग्रेडेशन) के लिए रणनीतिक योजना हेतु संकल्पनात्मक और विस्तृत डिजाइन,
पर्यवेक्षण, संचालन और रखरखाव संबंधी व्‍यापक सड़क परिवहन परामर्शी सेवाएं प्रदान करती है.

सेवाएं

  • परामर्शी/तकनीकी सहायता सेवाएं
  • पूर्व-व्‍यवहार्यता तथा सामरिक विकल्‍प तथा तकनीकी-आर्थिक व्‍यवहार्यता अध्‍ययन
  • नेटवर्क सुधार अध्‍ययन
  • विस्‍तृत डिजाइन तथा परियोजना तैयार करना
  • प्रूफ जांच तथा डिजाइन एवं टेंडर दस्‍तावेजों की समीक्षा
  • कार्य प्राप्ति, पूर्व-योग्‍यता तथा संविदा का चयन
  • निर्माण देखरेख/परियोजना प्रबंधन
  • अनुरक्षण योजना एवं प्रबंधन
  • गुणवत्‍ता आश्‍वासन
  • विकास, डिजाइन एवं निर्माण स्‍तर पर सड़क सुरक्षा जांच
  • एक्‍सप्रेसवे अध्‍ययन
  • निर्माण कार्यों की बाहरी तकनीकी लेखाजांच
  • निजीकरण
  • परिवहन एवं यातायात अध्‍ययन
  • सुरंग संबंधी(टनलिंग) परियोजनाएं

संपर्क सूचना

श्री आलोक गर्ग
का.नि.(हाइवे एवं पोर्ट)
Tel:- 0124- 2571641
ई मेल- alokgarg@rites.com

महत्वपूर्ण परियोजनाएं

चालू परियोजनाएं

 

  1. इथियोपिया में विश्व बैंक वित्‍त पोषित (इंटरनेशनल डेवलपमेंट एजेंसी) नासरत-असेला-दोदोला और शेषेमेने गोबा सड़क उन्नयन परियोजना डेंगोरू-बिल्ला-हेना सड़क के पुनर्निर्माण के लिए परामर्श;
  2. इथियोपिया में पेट्रोलियम निर्यातक देशों के वित्त पोषित मेकेनाजो-नेजो-मेंडी सड़क के संगठन के लिए परामर्श;
  3. ताज एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकरण (टीईए) के तहत उत्तर प्रदेश, भारत 165 किमी के राज्य में नोएडा से आगरा के लिए ताज एक्सप्रेसवे के लिए परियोजना सलाहकार परामर्श सेवाएं (बीओटी परियोजनाएं);
  4. दिल्ली में अम्बेडकर नगर से दिल्ली गेट के कॉरीडोर के लिए उच्च क्षमता बस प्रणाली की परियोजना प्रबंधन (एचसीबीएस) परामर्श सेवाएं;
  5. नेपाल में तराई क्षेत्र में सड़कों के बुनियादी ढांचे का विस्तार डिजाइन;
  6. नेपाल में टनकपुर बैराज से महेन्द्रनगर लिंक रोड के लिए पर्यवेक्षण कंसल्टेंसी।
  7. डीबीएफओ/बीओटी आधार के लिए एनएच सैक्‍शनों में व्यवहार्यता/पीपीआर विकसित किया जा रहा है:
      • एनएचडीपी फेज-III पैकेज-एनएचएआई/बीओटीII/डीपीआर11, कांडला-मुंद्रा पोर्ट (एनएच 8A पूर्व, लंबाई: 73 किमी) के तहत डीबीएफओ तर्ज पर बीओटी (टोल) परियोजना के रूप में क्रियान्वित करने के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग के चयनित हिस्सों में से 4/6 लेन का बनाने के लिए व्यवहार्यता-सह-प्रारंभिक डिजाइन तैयार करने के लिए कंसल्टेंसी सेवाएं
      • एनएचडीपी फेस-V (लॉट-2): पैकेज नं. एनएचडीपीवी एमसी- II/बीओटी/डीपीआर/17  वालाहपेट-पूनामली रोड सैक्‍शन (92 किमी) के तहत डीबीएफओ पद्धति के आधार पर बीओटी (टोल) परियोजना के रूप में निष्‍पादित करने के लिए राष्‍ट्रीय राजमार्ग के चयनित हिस्‍सों में 6 लेनिंग के लिए व्‍यवहार्यताकी तैयारी के लिए परामर्शी सेवाएं.
  8. भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) के लिए तमिलनाडु राज्य में कंसलटेंसी पैकेजः एनएस2/आईसी/टीएन-6 (सलेम-कुमारपालायम खंड) की 4/6 लेनिंग के लिए स्‍वतंत्र परामर्शी सेवाएं.
  9. सिविल अनुबंध के चार लेन का बनाने की सिविल परियोजनाओं का पर्यवेक्षण कंसल्टेंसी (के रूप में 19-20 और रूप-3) सं. ईडब्ल्यू-द्वितीय पैकेज सहित ईस्ट वेस्ट कॉरिडोर पर असम राज्य में गुवाहाटी बाईपास (एएस -14) का रखरखाव।

संपन्न  परियोजनाएं

विदेश में

 

बांग्लादेश
• शिकारपुर और दोहरिका पुलों का निर्माण पर्यवेक्षण तथा उप (एप्रोच) रोड परियोजना

भूटान
• 3 पुलों के लिए डीपीआर और पर्यवेक्षण, थिंपू में ताशिचो-बाबेस एक्सप्रेसवे (6.2 किमी) के लिए डीपीआर

बोत्सवाना
• पांडमातेंगा फार्मों के लिए सड़कों और जल निकासी व्यवस्था के लिए डीपीआर; फ्रैन्सिसटाउन-रामोकग्वेबाना रोड के लिए डीपीआर और; पर्यवेक्षण तशीबी - मासुंगा कैमरून रोड, बोत्सवाना का डीपीआर और निर्माण पर्यवेक्षण

कैमरून

•कैमरून मेलॉन्ग-डीसचैंग रोड (क्लिफ सेक्शन) के लिए तकनीकी अध्ययन

इथियोपिया
• मेकेनाजो-नेजो-मेंडी (ओपेक) और नाजारेथ-एस्सेला-डोदोला और शाशेमेने-गोबा रोड (विश्व बैंक) की

   डिजाइन समीक्षा एवं पर्यवेक्षण

घाना

•घाना रोड पुनर्वास तथा अनुरक्षण परियोजना, टीआरपी। तथा टीआरपी 2 (वित्‍त बैंक द्वारा पोषित) के अंतर्गत  ट्रंक रोड का अनुरक्षण तथा पुनर्वास

मोजाम्बिक
• जेइ-जेई (XaiXai) ब्रिज और फीडर सड़कों की निगरानी; Quelimane-Namacurra रोड के लिए डीपीआर


म्यांमार

                          • कालेत्‍वा से भारत म्‍यांमार सीमा तक सड़क के लिए व्‍यवहार्यता और डीपीआर त्रि‍भुजीय राजमार्ग के चोंगमा-लिंगदाव रोड़ सेक्‍शन के लिए डीपीआर 

नेपाल
• जनकपुर के आसपास बाहरी रिंग रोड (103 किलोमीटर) के लिए तकनीकी आर्थिक व्‍यवहार्यता अध्‍ययन

•नेपाल में तेरई रोड (650 किलोमीटर) (फेस-।)  की डीपीआर तथा निर्माण पर्यवेक्षण

•कोहलपुर महाकाली रोड पर नो पुलों के कार्यों के लिए डीपीआर, परियोजना प्रबंधन तथा निर्माण पर्यवेक्षण

•रक्‍सौल के पास भारत नेपाले सीमा पर सिरसिया नदी पर सड़क पुल व उप मार्गों के कार्यों की डीपीआर,

  परियोजना प्रबंधन तथा पर्यवेक्षण

तंजानिया

                         •सिंगिडा-नजीदा रोड के लिए डीपीआर

                 युगांडा

                •कीकोरोंगो-काटुनगुरू एवं इक्‍वेटर रोड के लिए डिजाइन समीक्षा निर्माण सर्वेक्षण

                  जाम्बिया

                 •सेरेन्जे-मपीका रोड के लिए डीपीआर और पर्यवेक्षण;  चिंगोला - कासंबलेस रोड का पर्यवेक्षण

भारत

    1. तमिलनाडु में एनएच-4 के वालाजपेट-पूनमल्‍ली रोड सेक्‍शन (92 कि.मी.) के 6 लेनिंग हेतु व्‍यवहार्यता अध्‍ययन
    2. नॉर्थ-साउथ एक्‍सप्रेसवे (600 कि.मी.), केरल के लिए व्‍यवहार्यता अध्‍ययन
    3. 6 लेन अहमदाबाद-धोलेरा (116 कि.मी.) एक्‍सप्रेसवे (ग्रीनफील्‍ड विकास) के लिए व्‍यवहार्यता अध्‍ययन एवं प्रांरभिक डिजाइन रिपोर्ट
    4. पिपराकोटी-मोतीहारी-रक्‍सौल सीमा सड़क 75 (कि.मी.), बिहार के लिए व्‍यवहार्यता अध्‍ययन एवं प्रांरभिक डिजाइन रिपोर्ट
    5. गुजरात में एनएच-8ए, कांडला-मुडंरा रोड सेक्‍शन (73 कि.मी.) के 4/6 लेनिंग के लिए व्‍यवहार्यता अध्‍ययन एवं प्रांरभिक डिजाइन रिपोर्ट
    6. असम एवं मिजोरम राज्‍यों में एनएच -54 के सिलचर-कोलसिब रोड सेक्‍शन के लिए व्‍यवहार्यता एवं डीपीआर
    7. एनएच- 210 के कराईकुडी से रामानाथपुरम रोड सेक्‍शन(80 कि.मी.), तमिलनाडु के 4/6 लेनिंग के लिए व्‍यवहार्यता अध्‍ययन एवं डीपीआर 
    8. हरियाणा एवं राजस्‍थान में एनएच -8 के गुड़गांव-कोटपुतली-जयपुर सेक्‍शन पर छ: बॉईपास का व्‍यवहार्यता अध्‍ययन एवं डीपीआर
    9. मणिपुर में बराक नदी पर 140.0 मी स्‍पैन स्‍टील सुपरस्‍ट्रक्‍चर ब्रिज तथा एनएच-53 के जिरिबाम –बराक रोड पर मकरू नदी के ऊपर 80.0 मी स्‍पैन स्‍टील सुपरस्‍ट्रक्‍चर का व्‍यवहार्यता अध्‍ययन.
    10. असम में राष्ट्रीय राजमार्ग 54 के हरंगोजो से मैबोंग के लिए व्यवहार्यता अध्ययन और डीपीआर
    11. SARDP-NE के फेज़ -1 के अधीन नागालैंड में विभिन्न सड़क सेक्‍शनों (303 कि.मी.) के 2-लेन के लिए डीपीआर
    12. तमिलनाडु में टीएनआरएसपी II के अधीन विभिन्न सड़क सेक्‍शन (413 कि.मी.) का डीपीआर
    13. तमिलनाडु में एनएच -45 के तिंडीवनम-त्रिची सेक्‍शन का डीपीआर
    14. तमिलनाडु में एनएच -4 और एनएच -5 को जोड़ने वाली 6-लेन चेन्नई बायपास का  डीपीआर (32.5 कि.मी.)
    15. उत्तर प्रदेश में 3 एनएच के विस्‍तार का डीपीआर (एनएच – 7 का वाराणसी – हनुमानाह, एनएच-24बी का लखनऊ- रायबरेली सेक्‍शन, एनएच-232ए का उन्‍नाव- लालगंज सेक्‍शन) (275.5 कि.मी.)
    16. आंध्र प्रदेश में एनएच-9 के हैदराबाद-विजयवाड़ा रोड सेक्‍शन (116 कि.मी.) के 4/6 लेनिंग हेतु डीपीआर
    17. मध्‍य प्रदेश में एनएच 26बी के नरसिंहपुर-हरई-अमरवाड़ा रोड सेक्‍शन (89 कि.मी.) का पेवड शोल्‍डर के साथ 2 लेनिंग हेतु डीपीआर 
    18. दिल्‍ली एवं हरियाणा में एनएच-2 पर 3 किमी लंबे 6 लेन एलवेटिड हाइवे का डीपीआर
    19. उड़ीसा में केंझर व जयपुर में नारनपुर-हरिचंदनपुर-ब्रह्मणिपाल-दुबुरी रोड का डीपीआर
    20. पश्चिम बंगाल में एनएच 34 का राजगंज-दालकोला सेक्‍शन (55 कि.मी.) का 4 लेनिंग हेतु डीपीआर
    21. महाराष्‍ट्र में एसएच 20 के वर्तमान घोती-सिन्‍नर सेक्‍शन (60 कि.मी.) को एक्‍सप्रेसवे मानकों के अनुसार बनाए जाने के लिए डीपीआर
    22. गुजरात में 4 लेन राष्‍ट्रीय राजमार्ग सेक्‍शन (506 कि.मी.) के लिए व्‍यवहार्यता अध्‍ययन एवं डीपीआर (एडीबी द्वारा वित्‍त पोषित)
    23. हरियाणा में 6 लेन कुंडली-मानेसर-पलवल (135 कि.मी.) एक्‍सप्रेसवे के लिए डीपीआर
    24. भारत-नेपाल सीमा पर उत्‍तर प्रदेश/बिहार में 4 सड़कों के लिए डीपीआर
    25. दिल्‍ली में एनएच-236 के मेहरौली- गुड़गांव रोड (7.5 कि.मी.) की 6 लेनिंग का डीपीआर तथा निर्माण पर्यवेक्षण 
    26. नैशनल ऑटोमेटिव टेस्टिंग एंड आर एंड डी इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर परियोजना के अधीन पीतमपुर, चेन्‍नई एवं मानेसर में 2/4/6 लेन टेस्‍ट ट्रैक का डीपीआर एवं निर्माण पर्यवेक्षण
    27. उड़ीसा के केबीके जिलों में ग्रामीण सड़कों का डीपीआर एवं पर्यवेक्षण
    28. तमिलनाडु में एनएच-4 तथा एनएच-46 पर  कृष्‍णा‍गिरी से रानीपेट सेक्‍शन (148 कि.मी.) की 4 लेनिंग का डीपीआर तथा पर्यवेक्षण
    29. उत्‍तर प्रदेश में ग्रेटर नोएडा से गाज़ीपुर/बलिया 8 लेन एक्‍सेस नियंत्रित एक्‍सप्रेसवे के लिए परियोजना विकास परामर्शी सेवाएं (1047 कि.मी.)
    30. असम में गुवाहाटी बाईपास (66 कि.मी.) के अनुरक्षण सहित तीन सिविल संविदा पैकेज एएस-19, एएस-20 तथा एस-3 के 4 लेनिंग कार्यों का निर्माण पर्यवेक्षण
    31. उत्‍तर प्रदेश में नोएडा तथा आगरा के बीच 6 लेन एक्‍सेस नियंत्रित यमुना एक्‍सप्रेसवे      (165 कि.मी.) के निर्माण  के लिए परियोजना परामर्शी सेवाएं
    32. आंध्र प्रदेश में ईपीसी मोड पर एनएच – 9 के विजयवाड़ा-मछलीपटनम सेक्‍शन (63.87 कि.मी.) के 4 लेन के पर्यवेक्षण के लिए प्राधिकरण के इंजीनियर
    33. केरल मे केरल राज्‍य परिवहन परियोजना (287 कि.मी.) के अधीन 2 लेन का निर्माण पर्यवेक्षण (विश्‍व बैंक द्वारा वित्‍त पोषित)
    34. झारखंड में एनएच 2 पर 240.000 कि.मी. से 320.000 तक 4 लेन का निर्माण पर्यवेक्षण (विश्‍व बैंक द्वारा वित्‍त पोषित)  तथा  राजस्‍थान में एनएच-76 का सिविल संविदा पैकेज आरजे-6, आरजे-7 एवं आरजे-8 (165 कि.मी.) के अधीन 4 लेन कार्य का निर्माण पर्यवेक्षण (एडीबी द्वारा वित्‍त पोषित)
    35. फगवाड़ा, पंजाब में एन एच-1 पर फगवाड़ा जंक्‍शन पर 6-लेन फ्लाईओवर का निर्माण पर्यवेक्षण 
    36. विभिन्‍न राष्‍ट्रीय राजमार्ग सेक्‍शनों के लिए निर्माण पर्यवेक्षण तथा उपयोग के प्रभार का अनुरक्षण
    37. एनएचएआई के एनएचडीपी के अधीन एनएस तथा ईडब्‍ल्‍यू कॉरिडोर के अंतर्गत एनएच सेक्‍शन का निर्माण पर्यवेक्षण
    38. छत्‍तीसगढ़, फेज़ I एवं IV  में पीएमजीएसवाई के अधीन ग्रामीण सड़क के लिए निर्माण पर्यवेक्षण
    39. आंध्र प्रदेश में एनएच – 5 (232 कि.मी.) सेक्‍शन के 4 लेन का निर्माण पर्यवेक्षण
    40. एक्‍सेस नियंत्रित दिल्‍ली-गुड़गांव हाइवे के लिए स्‍वतंत्र इंजीनियर
    41. तमिलनाडु में सेलम-कुमारपलायम सेक्‍शन (53 कि.मी.) के 4/6 लेनिंग के लिए स्‍वतंत्र इंजीनियर
    42. डीबीएफओटी वार्षिकी आधार पर 6 लेन चेन्नई बाहरी रिंग रोड के लिए स्वतंत्र इंजीनियर सेवाएं
    43. राजस्‍थान (2100 कि.मी), पश्चिम बंगाल (6000 कि.मी.), केरल (2810 कि.मी.) में राजकीय राजमार्ग तथा महत्‍वपूर्ण जिला सड़कों के लिए सामरिक विकल्‍प 
    एन एच-86, उत्‍तर प्रदेश में कानपुर-कबराई सेक्‍शन (122 कि.मी.) पर पेवड शोल्‍डर के साथ 2 लेनिंग, एनएच-2, उत्‍तर प्रदेश एवं हरियाणा के दिल्‍ली-आगरा सेक्‍शन (180 कि.मी.) की 6 लेनिंग तथा हरियाणा तथा पंजाब में एनएच-1 के पानीपत-जालंधर सेक्‍शन (291 कि.मी.) की 6 लेनिंग, राजस्‍थान में एनएच-12 के जयपुर से देवली सेक्‍शन (146 कि.मी.) की 4 लेनिंग, राजस्‍थान में एनएच8 के किशनगढ़-बेवर सेक्‍शन (94 कि.मी.) की 6 लेनिंग, उ.प्र. एवं बिहार में एनएच-2 के वाराणसी-औरंगाबाद (192 कि.मी.) सेक्‍शन की 6 लेनिंग, महाराष्‍ट्र में एनएच-3 के एमपी/एमएच बॉर्डर से धुले सेक्‍शन (97 कि.मी.) की 4 लेनिंग, गुजरात में एनएच-59 के अहमदाबाद-गोधरा (133 कि.मी.) सेक्‍शन की 4 लेनिंग, पश्चिम बंगाल में एनएच-34 के ब्रह्मपोर-फरक्‍का सेक्‍शन (102 कि.मी.) की 4 लेनिंग के लिए सड़क संरक्षा परामर्शी सेवाएं.  
 
साइटमैप | अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न | कर्मचारी पोर्टल | पूर्व कर्मचारी पोर्टल | शिकायतें | निरीक्षण पोर्टल | मुख्य लिंक | प्रतिक्रिया